WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
WhatsApp Group Join Now

गेहूं भाव में तेजी, गेहूं के भाव बढ़ेंगे या घटेगा, जानें पूरी जानकारी 

बीते हफ्ते में गेहूं भाव में आई, अब गेहूं में तेजी, गेहूं के भाव बढ़ेंगे या घटेगा, Gehu Teji Mandi Vyapar Bhavishya 2024, जानें पूरी जानकारी

गेहूं तेजी मंदी व्यापार भविष्य 2024 (Gehu Teji Mandi Vyapar Bhavishya 2024)

पिछले सप्ताह आरंभ में सोमवार दिल्ली गेहूँ-2670 रुपये पर खुला था ओर शनिवार शाम दिल्ली गेहूँ-2680/85 रुपये पर बंद हुआ, बीते सप्ताह के दौरान गेहूँ मे मांग बनी रहने से +15 रुपए प्रति क्विंटल की मजबूत दर्ज हुआ, हमारे बताए अनुसार बाजार में तेजी की रफ्तार जारी है। बाजार का FUNDAMENTAL इस साल भी मजबूत ही है।

राज्यवार मार्केट ट्रेंड (STATEWISE MARKET TREND)

उत्तरप्रदेश : के गोरखपुर में बाजार के भाव 20 रूपए से मंदे रहे। हरदोई मंडल में गेहूं के भाव स्थिर रहे।

पश्चिम बंगाल : के कोलकाता में गेहूं की कीमत 20 रूपए से कमजोर रहे।

तेलंगाना : के हैदराबाद में बाजार के भाव 30 रूपए से कमजोर रहे। साउथ के अधिकतर व्यापारियों ने 15 जुलाई तक के लिए रैक में माल लोड कर रखे है।

राजस्थान: के जोधपुर में बाजार के भाव स्थिर रहे, हालांकि स्टॉक लिमिट लगने से जो गिरावट बनी हुई , वो पूरी रिकवर होती दिख रही है।

मंडियों एवं बाजार में जो गिरावट आई थी। वह केवल स्टॉक सीमा लागु करने के कारण थी , किन्तु 2 ही दिनों में बाजार वापस बढ़त की और बढ़ने लगा।

मध्यप्रदेश, पंजाब, गुजरात एवम उत्तरप्रदेश के ज्यादातर बाजार में भाव उसी लेवल पर आ चुके है जहाँ से गिरावट बनी थी।

यदि सरकार के द्वारा OMSS के तहत गेहूं वितरण में देरी करेगी। तो मैदा के भाव में अच्छी तेजी देखने को मिल सकती हैं। बाजार में कोई लेवाल नहीं उस दिन तक का इंतज़ार न करे। समय समय पर प्रॉफिट भी बुक करते चले। बाजार सरकार के हस्तक्षेप से ही दबेगा , गिरावट का अभी और कोई कारण नजर दिखाई नहीं दे रहा।

NEWS

1. पंजाब की राज्य सरकार ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत कवर किए गए। लाभार्थियों को ‘आटा’ वितरण के लिए अपनी प्रमुख योजना घर-घर राशन को रोकने का फैसला लिया है। अब लाभार्थियों को केवल गेहूं ही मिलेगा।

दिल्ली लाइन

1. दिल्ली लाइन 2660 के निचे गिरावट की ट्रेंड में आ जाएगा। इस लेवल के ऊपर बाजार जब तक टिका है। वो मजबूती की स्थिति में ही है।

इंटरनेशनल न्यूज

मंत्रालय ने कहा की मिस्र के पास 6 महीने के लिए गेहूं का रणनीतिक भंडार है। व्यापारियों ने कहा की जॉर्डन के सरकारी अनाज खरीदार ने 1 अंतर्राष्ट्रीय निविदा में वैकल्पिक स्तोत्रों से प्राप्त किये जाने वाले लगभग 60,000 मीट्रिक टन मिलिंग गेहूं की खरीद की।

PROCUREMENT

1. 29 JUNE के डाटा के मुताबिक गेहूं की कुल खरीद अब तक 2,65,55,404.34 टन हो चुकी है।

2. केवल मध्यप्रदेश राज्य में सरकार इस बार गेहूं खरीद में सफल नहीं रही।

3. उत्तरप्रदेश में गेहूं खरीद का लक्ष्य आंकड़ा 60 लाख मीट्रिक टन रखा गया था। और जो सरकार की गेहूं खरीद मात्रा 15% हो पाई है 9 लाख मीट्रिक टन।

4. अबकी बार गेहूं खरीद का कुल आकड़ा 265 से 266 लाख टन में ही सिमट जाएगा।

गवर्नमेंट ऑफिस

1. सरकार के द्वारा”भारत आटा” योजना के लिए नए सिरे से ऑर्डर जारी करने वाली है, तब तक के लिए इस योजना के तहत किये जा रहे गेहूं के सभी उठाव को अगले आदेश तक तुरंत रोक दिया गया है।

2. गेहूं में लगाई स्टॉक सीमा मार्च 2025 तक जारी रहेगा।

Gehu Teji Mandi Vyapar Bhavishya 2024 NOTE: किसानों के हाथ में अभी भी गेहूं का स्टॉक अच्छी मात्र में है।व्यापार आपने विवेक से करें।

इसे भी पढ़ें 👉बड़ी खुशखबरी, एलपीजी गैस सिलेंडर की कीमतों में गिरावट

इसे भी पढ़ें 👉मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने लाखों किसानों के खातों में डाली किसान योजना की पहली किस्त

इसे भी पढ़ें 👉लाडली लक्ष्मी योजना का प्रमाण पत्र कैसे निकाले?, जानें डाउनलोड की पूरी जानकारी

इसे भी पढ़ें 👉लाडली बहना योजना में 14 वीं किस्त जारी होने के साथ, राशि बढ़ाने को लेकर बड़ा अपडेट

सोना चांदी व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़े 👉 यहां पर दबाएं

सरकारी योजना व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़े 👉यहां पर दबाएं

नोट: आज आपने जाना गेहूं का ताजा भाव Gehu Teji Mandi Vyapar Bhavishya 2024। व्यापार करने से पहले एक बार बहुत जरूर पता करें क्योंकि भाव में बदलाव होता रहता है इसलिए व्यापार करने से पहले भाव जरूर चेक करें। किसी भी प्रकार हानि होने पर योजना ऑनलाइन जिम्मेवार नहीं है।

Leave a Comment